कार चोरी का खुलासा, डिप्टी जेलर निकला घटना का मास्टरमाइंड

0
308

इंश्योंरेंस क्लैम करने को लेकर दिया घटना को अंजाम, जांच जारी

हरिद्वार 15दिसंबर । कार चोरी मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने चोरी की गयी कार को बरामद कर लिया है। घटना का मास्टर माइंड सैन्ट्रल जेल अम्बाला का डिप्टी जेलर निकला। जिसने अपने पारिवारिक सदस्यों के साथ इंश्योरेंस क्लैम करने को लेकर इस वारदात को अंजाम दिया था। हालांकि पुलिस अभी मामले की जांच में जुटी हुई है।
मिली जानकारी के अनुसार बीती 3 दिसम्बर को पवन कुमार निवासी गांव गंगाणा तहसील गोहाना जिला सोनीपत हरियाणा द्वारा थाना भगवानपुर में तहरीर देकर बताया गया था कि वह अपने रिश्तेदार यश कुमार की कार लेकर अपने ड्राइवर सुमित के साथ एक दिसम्बर को हरिद्वार आया था। देर होने के कारण हमने होटल फ्लोरा भगवानपुर में रात रूकने के लिए कमरा बुक कराया और कार को होटल के बाहर पार्क कर आराम करने होटल के कमरे मे चले गये। सुबह जब हम होटल के बाहर आये तो कार गायब मिली। जिसे अज्ञात चोर द्वारा चोरी कर लिया गया है। मामले में पुलिस ने तत्काल मुकदमा दर्ज कर चोरों की तलाश शुरू कर दी गयी। जांच के दौरान सामने आया कि घटना के समय पीड़ित का ड्राइवर और एक अन्य व्यक्ति घटना स्थल पर ही मौजूद थे। जिसके आधार पर विवेचनात्मक कार्यवाही के दौरान पुलिस ने दुष्यंत पुत्र ताराचंद निवासी ग्राम किशनपुरा थाना पिपली कुरुक्षेत्र हरियाणा का नाम प्रकाश मे आया था से सख्ती से पूछताछ की गयी तो दुष्यंत द्वारा बताया गया कि डिप्टी जेलर सैन्ट्रल जेल अम्बाला यश कुमार हुड्डा द्वारा मुझे व अपने रिश्तेदार सुमित राणा को कहा गया था कि इस गाड़ी की उतराखण्ड मे चोरी की एफआईआर करवानी है। घटना का दिन जगह समय सब यश कुमार द्वारा ही बताया गया था उस दिन यश कुमार हुड्डा भी हमारे साथ हरिद्वार आये थे गाड़ी सुमित राणा चला कर लाया था जिसने वह गाड़ी फ्लोरा होटल भगवानपुर के पास खड़ी की और होटल के अंदर चले गए उसके बाद रात्रि मे मेरे द्वारा कार की दूसरी चाबी से गाड़ी को खोलकर होटल की पार्किंग से हरियाणा ले जाया गया था और अगले दिन पवन कुमार जो यश कुमार के साले हैं उन्होंने थाना भगवानपुर में उक्त कार चोरी हो जाने का मुकदमा लिखवा दिया था। विवेचना से प्रकाश मे आया कि डिप्टी जेलर सैन्ट्रल जेल अम्बाला यश कुमार हुड्डा द्वारा अपनी कार जो उनसे कहीं गायब हो गई थी का मोटर वाहन इश्योरेश क्लैम प्राप्त करने हेतु अपनी कार से समानता रखने वाली एक अन्य कार जो डिप्टी जेलर जिला जेल भिवानी हरियाणा अजय कुमार बलहारा पुत्र बिजेन्द्र कुमारन निवासी रोहतक के नाम पर पंजीकृत है पर अपनी गाडी की कूटरचित नम्बर प्लेट लगाकर मिथ्या सम्पत्ति चिन्ह का उपयोग कर वाहन बीमा प्राप्त करने हेतु एक आपराधिक षडयंन्त्र के तहत सामुहिक रुप से आपराधिक घटना को अंजाम दिया गया है। इस पर पुलिस ने साक्ष्यों के आधार पर यश हुड्डा पुत्र मोहिन्दर सिंह निवासी ऑफिसर कालोनी जिला जेल स्योरन रोहतक हरियाणा व परविन्दर चहल पुत्र माह सिंह निवासी गंगाणा थाना बरोदा जिला सोनीपत हरियाणा के खिलाफ सम्बन्धित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।