एसएफए चैम्पियनशिप्स के सातवें दिन जूडो, हैण्डबॉल और शूटिंग में रोमांचक फाइनल मैच खेले गए

0
257

महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज 206 पॉइन्ट्स के साथ स्कोरबोर्ड पर सबसे आगे है।

आचार्यकुलन ने सोशल बलूनी पब्लिक स्कूल को पीछे छोड़ दूसरा स्थान हासिल किया।

जूडो में फीमेल और मेल एथलीट्स का शानदार प्रदर्शन देखने को मिला।

देहरादून 16 अक्टूबर । एसएफए चैम्पियनशिप्स के सातवें दिन जूडो और हैण्डबॉल में रोमांचक प्रदर्शन देखने को मिला। विभिन्न आयु वर्गों के एथलीट्स ने परेड ग्राउण्ड और पैविलियन ग्राउण्ड में हैण्डबॉल, कबड्डी, चैस, बास्केटबॉल और जूडो में शानदार मैच खेले, जबकि जसपाल राना शूटिंग रेंज में शूटिंग का आयोजन हुआ। हैण्डबॉल में टमें गोल्ड की यात्रा पूरी करते हुए फाइनल की ओर आगे बढ़ीं जबकि — एथलीट्स ने जूडो और शूटिंग में पोडियम जीते।
महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज एसएफए चैम्पियनशिप्स में अपना प्रभुत्व बनाए हुए हैं, यह कुल 206 पॉइन्ट्स के साथ टॉप पर है। वही आचार्यकुलम, सोशल बलूनी पब्लिक स्कूल को पीछे छोड़ दूसरे स्थान पर पहुंच गया है। वर्तमान में चल रहा तीसरा संस्करण निश्चित रूप से रोमांचक है, स्कूल ‘खेलों के क्षेत्र में नंबर वन स्कूल’ का खिताब हासिल करने के लिए पुरज़ोर कोशिश कर रहे हैं।
उत्तराखण्ड में एसएफए चैम्पियनशिप्स पर अपना अनुभव साझा करते हुए ब्वॉयज़ अंडर-17 में खेल रहे नेशनल लैवल बैडमिंटन प्लेयर वेदांत राजपाल ने कहा, ‘‘यहां एसएफए इस्तेमाल किए गए बैडमिटन कोर्ट और शटल्स नेशनल एवं इंटरनेशनल स्तर के समकक्ष हैं। यह सराहनीय है कि एसएफए ने एक ही स्थान पर इतने बड़े पैमाने पर कई खेलों का आयोजन एक साथ किया है, जहां नेशनल एवं इंटरनेशनल लैवल के खिलाड़ी भी प्रतियोगिता कर रहे हैं।’’
दर्शकों को परेड ग्राउण्ड में जूडो का शानदार मुकाबला देखने को मिला, जहां ब्वॉयज़ अंडर-14 और अंडर-17 तथा गर्ल्स अंडर-14 कैटेगरी में मैच खेले गए। एथलीट्स ने पूरी प्रतियोगिता के दौरान ज़बरदस्त कौशल एवं दृढ़ इरादे का प्रदर्शन किया और एसएफए चैम्पियनशिप्स में इस खेल को आकर्षण केन्द्र बना दिया। अंडर-17 50 किलो मेल एथलीट्स में महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज से ध्रुव थापा ने गोल्ड, सैपिएन्स स्कूल, विकास नगर से सौरभ राना ने सिल्वर तथा केवी एफआईआई से आकाश सिंह नेगी ने ब्रॉन्ज़ जीता। अंडर-14 -44 किलो फीमेल एथलीट्स में सेपिएन्स स्कूल, विकास नगर ने आयूषी रावत ने गोल्ड राजकीय बालिका इंटरकॉलेज से खुशी कुमारी ने जूडो में सिल्वर जीता।
पैविलियन ग्राण्ड में तीव्र गति के रोमांचक खेल हैण्डबॉल प्रतियोगिता में युवा एथलीट्स की शानदार प्रतिभा देखने को मिली। एथलीट्स की स्फूर्ति, टीमवर्क और सामरिक सोच ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। आचार्यकुलम ने अंडर-18 मेल कैटेगरी में हैण्डबॉल में गोल्ड और ब्रॉन्ज़ जीता, जबकि आर्मी पब्लिक स्कूल ने सिल्वर जीता। इसी खेल में अंडर-16 फीमेल कैटेगरी में सेंट कबीर एकेडमी पोडियम पर नंबर वन पर रहा। इसके बाद पारस पब्लिक स्कूल दूसरे और माउंट लिटेरा ज़ी स्कूल देहरादून तीसरे स्थान पर रहा।
सातवें दिन जसपाल राना शूटिंग रेंज में अंडर-14 से अंडर-19 कैटेगरी में शूटिंग प्रतियागिताएं भी हुईं। ब्वॉयज़ अंडर-10 सं अंडर-18 तथा गर्ल्स अंडर-18 फुटबॉल प्रतियोगिता पैविलियन ग्राउण्ड में खेली गई ,जबकि कबड्डी अंडर-17 और अंडर-19 परेड ग्राउण्ड में हुई। चैसबोर्ड की बात करें तो गेम घड़ी की सूईयों के साथ जटिल होता जा रहा था! अरमान सिंह बक्शी ने अंडर-13 मेल कैटेगरी में 64 स्क्वेयर्स क्लेम कर जीत हासिल की और अपने स्कूल के लिए पॉइन्ट्स स्कोर किए।
एसएफए चैम्पयशिप्स के आठवें दिन योग प्रशंसकों को परेड ग्राउण्ड में योगासन की विभिन्न प्रतियोगिताएं देखने को मिलेंगी। यह प्रतियोगिता एथलीट्स को प्रत्यास्थता, तालमेल और सचेतनता दर्शाने का मौका देगी। इसी मैदान पर बास्केटबॉल टीम फाइनल्स में जीत हासिल करने के लिए मुकाबला करेंगी, जबकि कबड्डी टीमें कल के फाइनल्स के लिए तैयार हैं। वहीं दूसरी ओर महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज में आठवें दिन फाइनल मुकाबला होगा। देहरादून में एसएफए चैम्पियनशिप्स खेलों के प्रति शहर के जोश और युवाओं की प्रतिभा का प्रदर्शन जारी रखे हुए है।