धोखाधड़ी मामले में फरार चल रहा ईनामी गिरफ्तार।

0
255

देहरादून। करोड़ो की धोखाधड़ी मामले में काफी समय से फरार चल रहे पुष्पांजलि प्रोजेक्ट्स के डायरेक्टर राजपाल वालिया को एसटीएफ द्वारा देर रात नैनीताल से गिरफ्तार कर लिया गया है। करोड़ों की धोखाधड़ी के इस मामले में मुख्य सूत्रधार दीपक मित्तल व राजपाल वालिया ही है। जिनमें से 25 हजार के ईनामी राजपाल वालिया को गिरफ्तार किया गया है।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ आयुष अग्रवाल द्वारा जानकारी देते हुए बताया गया कि जनपद देहरादून में पुष्पांजलि प्रोजेक्ट के अंतर्गत फ्लैटों में निवेश करने के नाम पर कई लोगों से करोड़ों की धोखाधड़ी करने के मामलों में दीपक मित्तल, राखी मित्तल एवं राजपाल वालिया आदि के खिलाफ थाना डालनवाला पर कई मुकदमे पंजीकृत हुए हैं। इन मामलों में मित्तल दंपति के साथ  साथ पुष्पांजलि प्रोजेक्ट के डायरेक्टर राजपाल वालिया की गिरफ्तारी हेतु जिला पुलिस के साथ साथ अन्य एजेंसियों द्वारा काफी प्रयास किया जा रहे थे, परंतु राजपाल वालिया द्वारा लगातार अपने ठिकाने बदलते रहने एवं कोई भी फोन का इस्तेमाल नहीं करने के कारण उसकी गिरफ्तारी सभी के लिए चुनौती बनी हुई थी। बताया कि एसटीएफ द्वारा इस शातिर अपराधी की गिरफ्तारी हेतु एक ठोस रणनीति तैयार की गई। इस रणनीति के तहत राजपाल वालिया के आने जाने वाले सभी संभावित स्थानों पर सतर्क दृष्टि एवं उसके नजदीकी रिश्तेदारों की गतिविधियों पर द्वारा निगरानी की जा रही थी। इस क्रम में बीती रात एसटीएफ को सूचना मिली कि राजपाल वालिया अपनी पत्नी शेफाली वालिया की जमानत के संबंध में नैनीताल आया हुआ है। जिस पर एसटीएफ द्वारा नैनीताल में दबिश देकर राजपाल वालिया की गिरफ्तारी की गई है। ज्ञात हो कि कुछ दिन पहले शेफाली वालिया को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है एवम जिला स्तर पर उसकी जमानत खारिज हो गई है ।