युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्या ने मोस्टमानू मेला एवं विकास प्रदर्शनी का किया शुभारंभ।

0
34

पिथौरागढ़ 20 सितंबर। प्रदेश की महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास ,खाद्य ,नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले ,खेल एवं युवा कल्याण मंत्री रेखा आर्या ने पिथौरागढ़ के मोस्टमानू में स्थित मोष्टा देवता मंदिर परिसर में आयोजित 6 दिवसीय मोस्टमानू मेला एवं विकास प्रदर्शनी- 2023 के दूसरे दिवस में आयोजित कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि प्रतिभाग किया! मंत्री
रेखा आर्या ने मेले में आयोजित होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया!
इस अवसर पर मंत्री रेखा आर्या ने मोष्टा देवता को प्रणाम करते हुए कहा कि मोष्टा देवता का परिचय वर्षा के देवता के रूप में है! जब भी पिथौरागढ़ की जनता ने वर्षा की मांग की है, मोष्टा देवता ने वर्षा जल बरसाया है! मोस्टमानू मंदिर केवल पिथौरागढ़ वालों के लिए आस्था का केंद्र नहीं है बल्कि पूरी देवभूमि के लिए आस्था का केंद्र है। उन्होंने कहा कि भारतवर्ष में सबसे बड़ा मेला कुंभ का मेला होता है! मेरा यह मानना है कि कुंभ के मेले के बाद पिथौरागढ़ में आयोजित होने वाला मोस्टमानू मेला सबसे बड़ा मेला है! लोग यहां बहुत बड़ी संख्या में पहुंचकर अपनी आस्था का प्रदर्शन करते हैं! निश्चित रूप से यह मेला कुंभ के समान ही बड़ा मेला है! यह मेला पिथौरागढ़ का कुम्भ है! मंत्री श्रीमती आर्या ने कहा कि मेरा जब भी पिथौरागढ़ में आगमन होता है तो यहां के लोगों के द्वारा मेरे साथ खेल और खिलाड़ियों के संबंध में संवाद किया जाता है! मुझे प्रसन्नता है कि यहां लड़के और लड़कियां दोनों ही खेल के क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रयास कर रहे हैं! मंत्री श्रीमती आर्या ने खिलाड़ियों के लिए बनाई गई योजनाओं की जानकारी देते हुए कहा कि हमारी सरकार खिलाड़ियों के उन्नयन के लिए अनेक प्रोत्साहन योजनाएं चला जा रही हैं! हम खिलाड़ियों के भविष्य को सुरक्षित रखने के उद्देश्य से काम कर रहे हैं! उन्होंने बाल विकास एवं महिलाओं के कल्याण के लिए चलाई जा रही योजनाओं की भी जानकारी दी!
इससे पूर्व मंत्री रेखा आर्या द्वारा मोष्टा देवता मंदिर में मोष्टा देवता की पूजा अर्चना कर जनपद एवं प्रदेश की खुशहाली की मंगल कामना की गयी! वहीं विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टालों का स्थलीय निरीक्षण भी किया गया!
इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष दीपिका बोहरा,नगर पालिका अध्यक्ष पिथौरागढ़ राजेंद्र रावत, अपर जिलाधिकारी शिव कुमार बरनवाल, गिरीश जोशी, चंद्रा पंत आदि उपस्थित थे!