तप से होती है आत्मा निर्मल और पवित्र: समर्पण सागर

0
377

देहरादून 06 सितंबर । पर्वराज पर्युषण महापर्व के पावन अवसर पर आज उत्तम तप की आराधना दिवस पर श्री दिगम्बर जैन पंचायती मंदिर एव जैन भवन की समस्त कार्यकारिणी ने 1008 श्री महावीर भगवान के जिनालय मे प्रक्षाल एवं परम पूज्य क्षुल्लक रत्न 105 श्री समर्पण सागर जी महाराज जी के मुखारबिन्द से उच्चारित वृहद शान्तिधारा की, सभी ने पुण्य लाभ का सच्चय किया। क्षुल्लक श्री 105 समर्पण सागर ने अपने प्रवचन में उत्तम तप धर्म की व्याख्या करते हुए बताया कि तप से आत्मा निर्मल और पवित्र होती है, तप अशुभ कर्मों का नाश करता है,तप जग से सभी जीवो को उबारता है। जो जीव अहंकार छोड़कर तपस्या करता है, वह मुक्ति रमा को प्यारा होता है।तपस्या करने से ही विष, निवि॔षता को प्राप्त होता है, जो 12 प्रकार के तपों को तपता है वह शीघ्र ही शिव पदवी को प्राप्त करता है। संध्या काल में सांस्कृतिक कार्यक्रम की श्रंखला में आज “महिला जैन मिलन देहरादून” द्वारा दस लक्षण महापर्व पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ जैन भवन गांधी रोड पर भगवान महावीर के चित्र का अनावरण एवं दीप प्रज्वलन, भारतीय जैन मिलन एवं समाज के पदाधिकारी गण उत्सव समिति के पदाधिकारी गण जैन समाज के गणमान्य महानुभाव द्वारा करके किया गया। भगवान महावीर की स्वामी प्रार्थना से कार्यक्रम शुरू किया गया,मिलन की वीरांगनाओं द्वारा सुंदर भक्ति गीत प्रस्तुत किए गए, तत्पश्चात “महाराजा बिंबिसार के पुत्र राजकुमार अभय कुमार ” पर आधारित नाटक बड़े ही सुंदर ढंग से प्रस्तुत किया। राजा बिंबिसार के किरदार को वीरांगना शेफाली जैन,रानी चेलना वीरांगना सुनीता जैन, अभय कुमार मास्टर वेदांश जैन,नंदश्री वीरांगना कल्पना जैन,महामात्य वीरांगना प्रीति जैन, सेठ इंद्रदत्त वीरांगना मीनू जैन, नगर अध्यक्ष वीरांगना पायल जैन, नगर सेठ वीरांगना प्राची जैन रानी, चेलना की सखी का किरदार जेष्ठा वीरांगना ज्योति जैन,ने निभाया। इस अवसर पर भारतीय जैन मिलन के राष्ट्रीय मुख्य कार्यकारी अध्यक्ष नरेश चंद क्षेत्रीय मंत्री डॉक्टर संजय जैन, उत्सव समिति के संयोजक संदीप जैन जी,अर्जुन जैन,अमित जैन ऑप्टिकल ,अजीत जैन, आशीष जैन मौजूद रहे जैन भवन के अध्यक्ष सुनील जैन, अशोक जैन साधु सेवा समिति, मीडिया संयोजक गोपाल सिंघल अंकुर जैन, क्षेत्रिय संयोजिका एवं संरक्षिका गीतिका जैन,सीमा जैन, सुनैना जैन, सुप्रिया जैन, अलका जैन ,जूली जैन, ज्योति जैन ,प्रीति जैन ,मोनू जैन, प्रिया जैन ,अंकिता जैन, रेखा जैन धमावाला ,साधना जैन, पायल जैन ,कल्पना जैन ,पलक जैन, प्राची जैन ,निशा जैन वेदांश जैन पूर्णिमा जैन,सार्थक जैन,सचिन जैन,अमित जैन श्रेया डेंटल,उत्सव जैन, एवं नन्हे मुन्ने बच्चे उपस्थित रहे कार्यक्रम का संचालन वीरांगना प्रीति जैन ,वीरांगना संगीता जैन ने किया अंत में अध्यक्षा वीरांगना शेफाली जैन, मंत्री वीरांगना अलका जैन, एवं संयोजिका वीरांगना सुनैना जैन एवं प्रीति जैन की तरफ से कार्यक्रम में आए सभी लोगों का धन्यवाद एवं आभार व्यक्त किया।