आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में प्रेमी गिरफ्तार

0
148

देहरादून। थाना कैंट क्षेत्र के अंतर्गत 29 अगस्त को आंकाक्षा (28 वर्षीय) द्वारा पथरिया पीर के पास हाईटेंशन टावर पर फांसी लगाकर आत्महत्या करने की गुत्थी को पुलिस ने सुलझा दिया है। पुलिस ने युवती के प्रेमी को हत्या के लिए उकसाने के आरोप में गिरफ्तार किया है। शुक्रवार को आरोपी को कोर्ट में पेश किया जाएगा।
जानकारी के अनुसार 29 अगस्त की शाम कैंट थाना पुलिस को पीड़ित पिता नागेंद्र प्रसाद मैंदोला (निवासी यमुना कॉलोनी) ने तहरीर दी कि उनकी बेटी आकांक्षा उत्तराखंड जल विद्युत निगम में नौकरी करती थी। वो सुबह ऑफिस के लिए निकली थी, लेकिन शाम तक वापस नहीं पहुंची। सूचना पाकर गुमशुदा के मोबाइल फोन को सर्विलांस पर लेकर तलाश की गई तो गुमशुदा युवती का शव रात को पथरीया पीर बिंदाल के पास हाईटेंशन लाइन के नीचे मिला। मौके पर परिजनों को बुलाया गया। परिजनों ने शव की पहचान उनकी बेटी के रूप में की। मौके पर फील्ड यूनिट की टीम बुलाकर सभी सबूत जमा किए गए। साथ ही शव का पंचनामा भरकर पोस्टमॉर्टम की कार्रवाई के लिए भेजा गया। युवती के पिता की तहरीर के आधार पर 29 अगस्त की रात को ही थाना कैंट पर मुकदमा पंजीकृत कर मामले की जांच शुरू की गई। मामले का खुलासा करने के लिए 3 टीमों का गठन किया गया। पहली टीम द्वारा युवती के सीडीआर (कॉल डिटेल रिकॉर्ड) चेक किये गये। दूसरे टीम को सीसीटीवी फुटेज देखने और तीसरी टीम को संबंधित गवाहों से पूछताछ करने के लिए लगाया गया। वहीं, पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में मृतका की मौत फांसी लगाकर दम घुटने से होने की पुष्टि हुई, लेकिन युवती के साथ दुष्कर्म किया जाना नहीं पाया गया।
मामले की जांच के बाद युवती के मोबाइल नंबर पर एक मोबाइल नंबर से प्रत्येक दिन लगभग 60-70 कॉल की जानकारी मिली। नंबर की जानकारी जुटाई गई. नंबर पपेंद्र सिंह निवासी ग्राम मौगी थाना कैंपटी जनपद टिहरी गढ़वाल नाम के शख्स का निकला। जांच में पाया गया कि पपेंद्र सिंह वर्तमान में कोर ऑफ सिग्नल आर्मी जयपुर में तैनात है। घटना के दौरान 29 अगस्त को वो देहरादून में ही था। एसपी सिटी सरिता डोभाल के मुताबिक, इसके बाद पपेंद्र सिंह को पूछताछ के लिए थाने बुलाया गया. पूछताछ में पपेंद्र सिंह ने घटना की जानकारी दी। पपेंद्र सिंह के मुताबिक, युवती और उसकी दोस्ती दो साल पहले इंस्टाग्राम पर हुई थी। इसके बाद वह एक दूसरे के संपर्क में रहे। पहले भी वह युवती से मिलने कई बार देहरादून आया था। इसी बीच नवंबर 2021 में पपेंद्र सिंह की सगाई किसी अन्य लड़की से हो गई। इसके बाद से उसने युवती को इग्नोर करना शुरू कर दिया, जिससे दोनों के बीच तनाव जैसे हालात बनने लगे।