जनगीत गाकर जताया पड़ों के कटान का विरोध।

0
131

देहरादून। सिटीजन फॉर ग्रीन दून समेत विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के लोगों ने आशारोड़ी में जनगीत गाकर एक्सप्रेस-वे के लिए काटे जा रहे पेड़ों का विरोध किया। आक्रोशित लोगों ने कुछ देर के लिए पेड़ों के कटान का काम भी रुकवाया, जिस पर ठेकेदार ने पुलिस बुलाई। इस बीच प्रदर्शनकारी और पुलिस के बीच नोकझोक भी हुई।
दून-दिल्ली एक्सप्रेस-वे का काम चल रहा है। एक्सप्रेस-वे के लिए आशारोड़ी से डाटकाली के बीच पेड़ों के कटान का काम रहा है। इसके विरोध में विभिन्न सामाजिक संगठन आगे आ रहे हैं। रविवार को संगठनों से जुड़े ‘विनाश का विरोध कार्यक्रम के तहत आशारोड़ी में विरोध जताया। वक्ताओं ने कहा कि साल के वर्षों पुराने पेड़ों को काटा जा रहा है। साल के पेड़ प्राकृतिक सम्पदा है, कृत्रिम रूप से नहीं उगाए जा सकते और एक बार हटा दिए जाने के बाद, हम इन्हें हमेशा के लिए खो देंगे। पेड़ों के साथ-साथ इस क्षेत्र की समृद्ध जैव विविधता नष्ट हो जाएगी। कहा कि सरकार को पेड़ों का कटान रोकना चाहिए। विरोध करने वालों में सिटीजन फॉर ग्रीन दून के हिमांशु अरोड़ा, हिमांशु चौहान, भारत ज्ञान विभाग के समिति के विजय भट्ट, महिला मोर्चा की कमला पंत, सामाजिक कार्यकर्ता मनोज ध्यानी, प्रेम बहुखंड़ी समेत विभिन्न सामाजिक संगठनों से जुड़े लोग मौजूद रहे।