ब्रह्माकुमारीज ने किया अनुपमा रावत व श्रीगोपाल नारसन का सम्मान!

0
183

हरिद्वार । प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के हरिद्वार सेवा केंद्र पर आयोजित होली मिलन कार्यक्रम में हरिद्वार ग्रामीण क्षेत्र की नवनिर्वाचित विधायक अनुपमा रावत को उनकी नारी शक्ति के रूप में हुई विजय के लिए व साहित्यकार श्रीगोपाल नारसन के द्वारा ब्रह्माकुमारीज सम्बंधित कई पुस्तकों के लेखन के लिए सम्मानित किया गया।देहरादून जोनल इंचार्ज राजयोगिनी बहन मंजू दीदी,हरिद्वार सेवा केंद्र प्रभारी राजयोगिनी मीना दीदी,रुड़की केंद्र से राजयोगिनी गीता बहन व ब्रह्माकुमार सुशील भाई ने संयुक्त रूप से पुष्प गुच्छ, शाल व लक्ष्मी नारायण का चित्र देकर उनका अभिनन्दन किया।नवनिर्वाचित विधायक अनुपमा रावत ने कहा कि ब्रह्माकुमारीज नारी शक्ति के नेतृत्व का विश्वव्यापी आध्यात्मिक संगठन है,जो विश्व मे चरित्र निर्माण की अलख जगा रहा है।उन्होंने कहा कि उन्हें ब्रह्माकुमारीज सेवा केंद्र में आकर सुखद अनुभूति हुई।वे चाहती है कि विकास की दिशा में ब्रह्माकुमारी बहने उनका मार्गदर्शन करें ताकि वे समग्र समाज के हितों के लिए कार्य कर सके।उन्होंने राजयोग को परमात्मा से संवाद की अनूठी युक्ति पर भी चर्चा की।इस अवसर पर राजयोगिनी बीके मंजू ने होली के आध्यात्मिक रहस्य बताते हुए कहा कि हम परमात्मा की याद के रंग में स्वयं को रंगेंगे तो सच्ची होली हो जाएगी।राजयोगिनी बीके मीना ने राजयोग के अभ्यास को जीवन के लिए जरूरी बताया व होली पर बुराइयों को छोड़कर भक्त प्रहलाद की तरह ईश्वरीय याद में रहने के टिप्स बताए।बीके गीता व ब्रह्माकुमार सुशील भाई ने अतिथियों का स्वागत करते हुए राजयोग के लिए साथ दिन का निशुल्क पाठ्यक्रम पूरा करने के लिए आमजन से ब्रह्माकुमारीज केंद्रों पर आने की सलाह दी। ब्रह्माकुमारीज संस्था जनकल्याण मिशन से अवगत कराते हुए साहित्यकार श्रीगोपाल नारसन ने जहां विधायक अनुपमा रावत को उनकी जीत के लिए बधाई दी वही स्वपरिवर्तन से जग परिवर्तन सोच को सार्थक करने के लिए राजयोग अभ्यास को आवश्यक बताया।उन्होंने होली से सम्बंधित कविताएं सुनाकर सबको मंत्रमुग्ध भी किया।बीके प्रियंका बहन ने उपस्थित जनों को राजयोग का अभ्यास कराया गया और सिद्ध किया कि किस प्रकार हम आत्मा परमात्मा से रूह रिहान कर सकते है।जिसके साक्षी बने सूचना विभाग के उपनिदेशक मनोज श्रीवास्तव, बीके प्रियंका बहन,बीके बबिता बहन,अनिल पुंडीर, हर्ष हसीन व सतीश दुबे आदि मौजूद रहे।वही रुड़की सेवा केंद्र पर हुए होली मिलन कार्यक्रम में एआरटीओ एल्विन ने ब्रह्माकुमारीज संस्था से जुड़ने के अपने रोचक अनुभव साझा किया।छोटे बच्चों ने होली के आध्यात्मिक पक्ष पर केंद्रित एक नाटिका प्रस्तुत की।