*सतपाल महाराज ने क्षेत्र में बड़े काम किये हैं: निशंक*

0
379

*कांग्रेस अपने कार्यकर्ताओं को ही नहीं पहचानते: महाराज*

*सुंदर सिंह चौहान सहित अनेक लोगों ने थामा भाजपा का दामन*

सतपुली 12 फरवरी । भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने शनिवार को सतपुली में चौबट्टाखाल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी सतपाल महाराज विजय बनाने की अपील करते हुए एक विशाल जनसभा को संबोधित किया।

भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद डॉ रमेश पोखरियाल निशंक ने शनिवार को सतपुली बाजार में भाजपा प्रत्याशी श्री सतपाल महाराज के समर्थन में एक विशाल चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 14 तारीख को होने वाले मतदान में सतपाल महाराज को अपना वोट देकर भारी मतों से विजय बनाएं।

उन्होंने श्री महाराज के द्वारा विधानसभा क्षेत्र में किये गये अनेक विकास कार्यों का हवाला देते हुए कहा कि मतदाता कांग्रेस के बहकावे में ना आएं। कांग्रेस देश के नौजवानों को शराब पिलाकर बर्बाद करना चाहती है। हमारी युवा पीढ़ी का सुरक्षित होना आवश्यक है। भारतीय जनता पार्टी युवाओं को नए अवसर प्रदान कर रही है। उन्होंने कहा कि हालांकि पहले ही कांग्रेस को लोगों ने सत्ता से बहुत दूर फेंक दिया है। इसलिए हमें अभी भी सचेत रहने की आवश्यकता है।

डॉ निशंक ने उत्तराखंड राज्य आंदोलन की याद दिलाते हुए कहा कि जब हमारी माताएं, बहने युवा सड़कों पर पृथक राज्य आंदोलन की लड़ाई लड़ रहे थे और नारा लगा रहे थे कि “आज दो अभी दो, उत्तराखंड राज्य दो” उस समय कांग्रेस के लोग कहा करते थे कि ” यदि बनेगा तो उनकी लाश पर बनेगा” ऐसे लोगों को हमें पहचानना है और जो कांग्रेस गुमराह करती है उसको सबक सिखाना है।

भाजपा के स्टार प्रचारक रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा कि भाजपा अपने कार्यों का हिसाब किताब दे रही है जैसे कि श्री महाराज जी ने अपने कार्यों के बारे में भी दिया है मेरा कांग्रेसी से कहना है कि वह भी अपने 50 सालों का हिसाब की जनता को दें कि उसने देश के लिए क्या किया।

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता, आध्यात्मिक गुरु और चौबट्टाखाल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र के प्रत्याशी कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि कांग्रेस अपने कार्यकर्ताओं को ही सही ढंग से नहीं पहचानती उन्होंने पूर्व में कांग्रेस के प्रत्याशी रहे राजपाल बिष्ट का जिर्क करते हुए कहा कि वह एक स्वच्छ छवि के व्यक्ति हैं लेकिन उन्हें दरकिनार कर कांग्रेस ने इस बार उनके मुकाबले एक शराब व्यवसाई को मैदान में उतारा है।
श्री महाराज ने अपने संबोधन में कहा कि डबल इंजन की सरकार में प्रदेश में अनेक विकास कार्य हुए हैं। कक्षा 9 से 10 तक ग्यारहवीं से बारहवीं तक और इंटर से कॉलेज में जो बच्चे गए हैं उनके खातों में ₹12000 की धनराशि टेबलेट खरीदने के लिए दी गई है ताकि वह सही ढंग से पढ़ाई कर सकें। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार ने पंजीकृत महिला मंगल दल स्वयं सहायता समूह के लिए सात लाख तक के ऋण 0% ब्याज पर दिए जाने का प्रावधान किया है। विकलांग, विधवा एवं वृद्धावस्था पेंशन को बढ़ाकर ₹1200 से बढाकर ₹1500 प्रतिमाह किया गया है, साथ ही अब यह पेंशन पति और पत्नी दोनों को दी जाएगी। उन्होंने बताया कि भोजन माताओं, आशा और आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों के मानदेय में भी बढ़ोतरी की गई है। उज्जवला योजना के तहत महिलाओं को फ्री गैस कनेक्शन दिए गए हैं। किसान सम्मान निधि के तहत किसानों के खाते में प्रतिवर्ष ₹6000 की किसान सम्मान निधि दी जा रही है।
श्री महाराज ने कहा कि आयुष्मान भारत के द्वारा सभी को 5 लाख तक का मुफ्त इलाज दिया जा रहा है। अपने क्षेत्र में किए गए विभिन्न कार्यों का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि क्षेत्र में अनेक विकास कार्य किए गये हैं और आगे भी निरंतर क्षेत्र के विकास के लिए वह प्रयासरत रहेंगे। उन्होंने कहा कि सतपुली और स्यूंसी झील दो ऐसे बड़े प्रोजेक्ट हैं जिनके माध्यम से इस क्षेत्र में पर्यटन की गतिविधियां बढ़ेगी। यहां के लोगों को रोजगार मिलेगा और चौबट्टाखाल एक पर्यटन हब के रूप में सामने आयेगा।
चुनावी सभा के दौरान सुन्दर सिंह चौहान सहित अनेक लोगों ने भाजपा का दामन थामा। कार्यक्रम में सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के माध्यम से एक ओर जहां भाजपा ने जमकर चुनाव प्रचार किया वहीं दूसरी ओर कार्यक्रम के अंत में फूलों की होली खेल कर लोगों ने भाजपा के पक्ष में मतदान करने का संकल्प लिया।
इस मौके पर स्वामी जागर सिंधु जी महाराज, पूर्व मंत्री मोहन सिंह रावत गांववासी, डॉ. जे. पी. सेमवाल, पूर्व मंत्री गणेश चंद्रा, विधानसभा प्रभारी दर्शन सिंह दानू, राजेन्द्र धीरता और नगर पंचायत अध्यक्ष अंजना वर्मा आदि ने भी संबोधित किया।
कार्यक्रम में मंडल अध्यक्ष बृजमोहन, सत्यराज सिंह, महिपाल सिंह, यशपाल गोरला, ब्लाक प्रमुख नीरज पांथरी, सुरवीर सिंह गुसाईं, सुरजीत नरश्रेष्ठ, विक्रम सिंह, वेद प्रकाश वर्मा, पूर्व प्रमुख एकेश्वर नरेंद्र डन्डिरियाल एवं सुंदर सिंह चौहान आदि उपस्थित थे।