पूर्व प्रधानमंत्री की जयंती पर 32 किसानों का हुआ सम्मान उत्कृष्ट कार्य करने वाले 21 कर्मचारियों को भी किया गया सम्मानित  चौ. चरणसिंह की जयंती पर कृषि भवन में जनपद स्तरीय मेला/गोष्ठी का आयोजन

0
305
शामली। पूर्व प्रधानमंत्री चौ चरणसिंह की जयंती के अवसर पर कृषि भवन में किसान सम्मान दिवस एवं कृषि सूचना तंत्र के सुदृढीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस अवसर पर 32 किसानों को प्रशस्ति पत्र एवं शॉल तथा कृषि विभाग के 21 कर्मचारियों को उत्कृष्ट सेवा देने के लिए प्रशस्ति पत्र व प्रतीक चिन्ह भेंट कर सम्मानित किया गया, वहीं किसानों को सरकार की विभिन्न योजनाओं की भी जानकारी दी गयी।
जानकारी के अनुसार गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री स्व. चौधरी चरणसिंह की जयंती पर माजरा रोड स्थित कृषि भवन में किसान सम्मान दिवस एवं कृषि सूचना तंत्र के सुदृढीकरण एवं कृषक जागरूकता कार्यक्रम के तहत जनपद स्तरीय मेला/गोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ डीएम जसजीत कौर, सीडीओ शंभूनाथ तिवारी ने संयुक्त रूप से फीता काटकर व दीप प्रज्जवलित कर किया। डीएम ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री तथा महान किसान नेता चौधरी चरणसिंह का जन्मदिन हर साल पूरे उत्साह से मनाया जाता है। चौधरी चरणसिंह ने छोटे स्तर से शुरूआत की तथा प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री बनने के बाद भी उन्होंने किसानों और आम आदमी के बारे में सोचा जिसका आज फायदा भी मिल रहा है। डीएम ने किसानों को बधाई देते हुए कहा कि आप लोगों की मेहनत से कृषि के क्षेत्र में जनपद का नाम रोशन हो रहा है। उन्होंने आहवान किया कि किसान प्राकृतिक खेती करें जिससे आजकल नई-नई बीमारियां देखने को मिल रही है, ऐसी बीमारियों से बचा जा सके। उनहोंने बताया कि जनपद में किसान सम्मान निधि का भी लाभ दिया जा रहा है, यदि योजना में किसी का नाम छूट गया है तो वह अपना नाम जुडवा सकता है। डीएम ने यह भी कहा कि विगत वर्ष का गन्ना मूल्य भुगतान 31 दिसम्बर तक हो जाएगा। कार्यक्रम में उप कृषि निदेशक डा. शिव कुमार केसरी ने कृषि विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने किसानों को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, राष्ट्रीय कृषि विकास योजना की भी जानकारी दी। जिला कृषि अधिकारी डा. हरिशंकर ने किसानों से कृषि विभाग के पोर्टल पर पंजीकरण कराने की अपील की। मुख्य पशु चिकित्साधिकारी ने पशुपालन विभाग द्वारा चलाई जा रही योजनाओं की जानकारी दी। कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक डा. ओमकार सिंह ने आम के बागों में संतुलित उर्वरक प्रयोग समय से करने तथा कीटों की रोकथाम के उपाय, डा. एसपी सिंह ने जैविक खेती, डा. विकास मलिक ने गेहूं व गन्ना फसल पर गन्ना बुआई, बीज शोधन, गन्ना बंधाई तथा कीट रोग प्रबंधन की जानकारी दी। डा. सतीश कुमार ने प्राकृतिक खेती पर विस्तार से बताया। सीडीओ ने किसानों से आहवान किया कि वे गौवंशों को निराश्रित न छोडें तथा फसल अवशेषों को न जलाएं। ट्यूबवैलों पर पानी आवश्यकता के अनुसार ही चलाएं। इस अवसर पर डीएम जसजीत कौर, ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि शामली जयदेव मलिक, सीडीओ शंभूनाथ तिवारी ने संयुक्त रूप से कृषि, गन्ना, उद्यान एवं पशुपालन विभाग प्रत्येक से 8 किसानों कुल 32 किसानों को प्रशस्ति पत्र एवं शॉल तथा कृषि विभाग के 21 कर्मचारियों द्वारा विभाग को अपनी उत्कृष्ट सेवा देने के लिए प्रशस्ति पत्र व प्रतीक चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया। इस अवसर पर नरेश कुमार भडाना, डा. सतीश कुमार, डा. ओमकार सिंह, डा. विकास मलिक, उपसंभागीय कृषि प्रसार अधिकारी कैराना अमित कुमार, वीरेन्द्र सिंह, मांगेराम, नरेशपाल चौहान, अजय तोमर, अमित मलिक, अजीत कुमार आदि भी मौजूद रहे।
रिपोर्ट :- सिद्धार्थ भारद्वाज प्रभारी जनपद शामली उ०प्र०।